भारत और चीन दोनों ही देशो के बीच में एक तरह से तनाव का माहौल बना हुआ है. ऐसे वक्त में क्या करे और क्या न करे वाली सिचुएशन है जिसमे किसी को भी ये पता नही चल रहा है कि क्या करे लेकिन भारत की सरकार को ये अच्छे तरीके से मालूम है कि क्या करना है और इसी कारण से लगातार दिल्ली के दफ्तरों में मीटिंग चल रही है. एक के बाद एक मीटिंग हमने होते हुए न सिर्फ देखी है बल्कि साथ ही साथ में हम लोगो ने ये भी देखा है कि अब सरकार चीन के मूद्दे पर काफी ज्यादा संवेदनशील हो गयी है.

वही एक ऐसा फैसला भी अभी हाल ही में लिया गया है जो कोई सामान्य परिस्थिति में नही लिया जाता है. मोदी सरकार ने तीनो सेनाओं को एक 500 करोड़ का विशेष इमरजेंसी फंड अलोट कर दिया है यानी ये 500 करोड़ रूपये से सेनाये जिस हिसाब से चाहे उस हिसाब से तुरंत खरीदारी कर सकेगी और इसमें कोई भी रोक आदि नही रहेगी.

आम तौर पर ऐसे फंड तब दिए जाते है जब कोई विशेष स्थिति होती है और अब संभव है कि चीन के साथ में ऐसी ही कोई स्थिति बन रही हो. इस फंड से सेनाओं को काफी बैकिंग मिल जायेगी अगर वाकई में उनको कही पर जाकर के किसी का मुकाबला करना है. वही एक और खबर ये है कि भारत चीन से और नए मिग और सुखोई खरीद रहा है और ला रहा है. ये नयी जनरेशन के प्लेन है आर इनको तुरंत प्रभाव से लाने की तैयारी है.

अब इतना सब कुछ एक साथ में हहो रहा है और वो भी अन्दर ही अन्दर तो जाहिर सी बात है कि ये सामान्य समय नही है और अगर कुछ होता भी है तो नागरिको को सरकार और सेना का हर कीमत पर सपोर्ट करना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *